fbpx
Income Tax Return

Income Tax Return File कैसे करें

Table of Contents

Income Tax Return Kaise File Kare:  Friends ITR Form एक ऐसा Form होता है, जिसे हर व्यक्ति को भारत के Income Tax Department में जमा कराना होता है। ITR Form में आपके द्वारा एक वित्तीय वर्ष भुगतान किये गए Tax की पूरी जानकारी शामिल होती है। Income Tax से होनें वाली कमाई का Use भारत सरकार द्वारा भारत की जनता को सुविधा व सेवाएं देनें में किया जाता है।

ITR Form एक ऐसा Form है, जिसे सभी भारतीयो को भरना होता है, लेकिन अक्सर लोग इसे भरनें से बचते है, क्योंकि इसका एक कारण यह है कि कुछ लोग अपनी Income को भारत सरकार से छुपाना चाहते है, या फिर कुछ लोगो को ITR के बारें में पूरी जानकारी नही होती है।

कुछ लोग तो इस कारण से भी ITR File नही करते है क्योंकि उन्हे पता ही नही होता है कि उन्हे कौनसा ITR Form भरना होगा। इसी कारण आज हम इस Article में “ITR kya hai“, “ITR File करनें के लिए पात्रता“, “ITR के लाभ” तथा “ITR kaise File kare? Step by Step jankari” प्राप्त करेगें। हम इस Article में ITR सें Related सभी Important जानकारी प्राप्त करनें वाले इसलिए इस Article को पूरा पढ़े।

ITR क्या होता है | ITR Kya Hai in  Hindi आइए जाने

ITR का Full Form Income Tax Return होता है। यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें व्यक्ति वित्तीय वर्ष के Last में आयकर विभाग को Tax Return File करता है।

मेरे अनुसार आप आयकर या Income Tax के बारें में आप जानते ही होंगे। अगर आप नही जानते है तो मैं आपको बता दूं कि भारत के सभी नागरिको को अपनी Income का एक हिस्सा भारत सरकार को Tax के रुप में देना होता है, जिसे Income Tax या आयकर कहा जाता है।

अर्थात Income Tax Return ऐसा Form है, जिसमें किसी व्यक्ति को अपनें पिछले वित्तीय वर्ष की Income की पूरी जानकारी देनी होती है।

जिसमें उसे यह बताना होता है कि उसनें पैसे किस तरीके से कमाए, कितना Invest किया, कितनी Saving हुई तथा कितना कर चुकाया है। हम यह भी कह सकते है कि ITR में एक व्यक्ति को पिछले वित्तीय वर्ष का ब्यौरा देना होता है।

ITR Form कितने प्रकार के होते है? Types of ITR Form

 

दरअसल सभी Tax Payer के लिए ITR Form एक जैसा नही होता है। अलग-अलग Tax Payer को अलग अलग प्रकार के ITR Form भरनें होतै है।

अलग अलग Tax Payer के आधार पर ITR Form 7 प्रकार के होते है। जो निम्न है- ITR 1, ITR 2, ITR 3, ITR 4, ITR 5, ITR 6, ITR 7.

इन सभी ITR Form को अलग अलग Category के लोग भरते है। अगर आप भी कभी ITR Form भरते है तो आपको अपनी Category के अनुसार ही Form भरना होगा।

अगर आप भूल से भी कोई गलत ITR Form भरते है तो आपको भविष्य में बङी समस्याओ का सामना करना पङ सकता है।

इसलिए ITR Form भरनें से पहले किसी सलाहाकार से सलाह जरुर ले या फिर आप Income Tax के Toll Free Number पर Call भी कर सकते है।

ध्यान रखनें योग्य बात है कि Category आपके Status, आय की प्रकृति और threshold limit, कारोबार या व्यक्ति के काम की प्रकृति आदि के आधार पर तय होती है।

 

ITR

 

Bonus Points

यहां पर आप Tax Payer शब्द को सुनकर परेशान न हो, Tax Payer का तात्पर्य Tax का भुगतान करनें वाले से है।

Types of ITR योग्य व्यक्ति
ITR 1 Form
  • ITR 1 Form को “सहज फॉर्म” भी कहा जाता है।
  • यह उन लोगो के लिए है, जिनकी Income 50 लाख रुपये से कम है।
  • आय के स्रोत में Salary/ पेंशन, एक House Property व अन्य स्रोत जैसे Interest शामिल होता है।
  • Tax Payer की कृषि से होनें वाली आय 5,000 रुपये या इससें कम होनी चाहिए।
  • इस Form को वे Tax Payers नही भर सकते है, जो किसी Company के निदेशक हो।
  • जो गैरसूचीबद्ध इक्विटी शेयरो में निवेश करता हो।
  • जिसकी आय का स्रोत Business या Profession हो।
ITR 2 Form
  • ITR 2 Form को वे लोग या HUFs (Hindu Undivided Family) भरेगें, जिनकी आय का श्रोत Business या Profession नही है। लेकिन वे ITR 1 भरनें में असमर्थ है।
  • इनकी Income 50 लाख रुपये से अधिक होनी चाहिए।
  • इस Form को भरनें वाले की आय का श्रोत Salary/  Pension, House Property व अन्य श्रोत जैसे Interest से प्राप्त Income होती है।
ITR 3 Form
  • ITR 3 Form उन लोगो या HUFs के लिए उपयोगी है, जिनकी Income का श्रोत Business या Profession है, लेकिन वे ITR 4 Form भरनें में अयोग्य होते है।
  • ITR 3 को वह Person भर सकता है, जो Business करता हो।
  • किसी Company का Individual Director हो।
  • जो लोग गैरसूचीबद्ध इक्विटी शेयरो में निवेश करते है।
  • जो व्यक्ति किसी Company या Farm में Partner के रुप में Income प्राप्त करनें वाला हो।
  • इसके अलावा जो व्यक्ति हाउस Property, salary/ Pension तथा अन्य श्रोतो से भी Income प्राप्त करते है।
ITR 4
  • ITR 4 Form उन लोगो (HUFs and partnership, LLP के अलावा) के लिए है, जिनकी भारत के नागरिक के निवासी के रुप में कुल Income 50 लाख रुपये तक होती है।
  • उन लोगो को आयकर कानून के Section 44AD, 44ADA या 44AE के तहत कंप्यूटेड बिजनेस व प्रोफेशन से आय प्राप्त हो।
  • उसके आय के श्रोत में Salary या Pension, एक House Property, अन्य स्रोत भी शामिल है।
  • यदि व्यक्ति के Business का कुल Turnover 2 करोङ से अधिक है, तो वह ITR 4 नही भर सकता है। उसे ITR 3 भरना होगा।
  • यदि व्यक्ति Capital Gains से Income प्राप्त करता हो तथा Foreign Assets का मालिक है तो वह भी ITR 4 नही भर सकता है।
ITR 5
  • ITR 5 का Form उन Tax Payers के लिए है, जो व्यक्ति और HUFs (ITR-1 से ITR-4 वाले), Company (ITR-6 वाली) / चैरिटेबल ट्रस्ट/ इंस्टीट्यूशंस (ITR-7 वाले) से अलग होते है।
  • अर्थात IRT-5 का उपयोग IRT-4 के लिए योग्य पार्टनरशिप फर्म्स से अलग पार्टनरशिप फर्म्स के लिए , LLPs, एसोसिएशन ऑफ पर्सन्स, बॉडी ऑफ इंडीविजुअल्स आदि के लिए है।
  • इनके लिए कोई अन्य फॉर्म लागू नही होता है।
ITR 6 व ITR 7
  • ITR 6 फॉर्म उन लोगो के लिए है, जो आयकर कानून के सेक्शन 11 तहत एग्जेंप्शन क्लेम करनें वाली कंपनियों से अलग होती है।
  • ITR 7 उन लोगो व कंपनियो के लिए जिन्हे केवल 139 (4A) या 139(4B) या 139(4C) या 139(4D) के तहत रिटर्न फर्निश करनें की जरुरत होती है।

ITR किसे File करना होता है?

अगर किसी Person की कुल Income ढाई लाख रुपये से अधिक है तो आपको ITR File करना जरुरी है।

लेकिन यदि आपकी कुल Income ढाई लाख रुपये से कम है, तब भी आप ITR File कर सकते है किंतु आपको कोई Tax देने की आवश्यकता नही होती है।

किसी व्यक्ति की कितनी कमाई होनें पर कितना Tax भरना होगा। यह आपकी उम्र तथा आपके द्वारा चुनी गई Tax regime पर निर्भर करता है।

वर्ष 2020 के बजट में केंद्रीय सरकार द्वारा एक नयी Tax regime पेश की गई। जिसकी Tax Slab पुरानी Regime की Tax Slab से काफी परिवर्तित है।

हालांकि लोगो को यह Option दिया जाता है कि वे किस Tax regime के अंतर्गत Tax भरना चाहते है। आप जो भी Tax regime चुनेंगे, उसके अनुसार आपको Tax भी चुकाना होगा।

पुरानी व्यवस्था
Income Tax Slab भारतीय निवासी और HUF (60 वर्ष से कम आयु वाले तथा भारतीय) भारतीय निवासी और HUF(60 वर्ष से 80 वर्ष आयु वाले व्यक्ति) भारतीय निवासी और HUF(80 वर्ष से अधिक उम्र के लोग)
0.0 रु. से 2.5 लाख रु. शून्य रुपये शून्य रुपये शून्य रुपये
2.5 लाख से 3.00 लाख 5 प्रतिशत (Section 87a के तहत छूट मिलेगी) शून्य रुपये शून्य रुपये
3.00 लाख से 5.00लाख 5 प्रतिशत (सेक्शन 87a के तहत छूट मिलेगी) शून्य रुपये
5.00 से 7.5 लाख रुपय 20 प्रतिशत 20 प्रतिशत 20 प्रतिशत
7.5 लाख से 10.00 लाख रुपये 20 प्रतिशत 20 प्रतिशत 20 प्रतिशत
10.00 लाख से 12.50 लाख रुपये 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत
12.5 लाख से 15.00 लाख रुपये 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत
15 लाख रुपये से अधिक 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत 30 प्रतिशत
नयी व्यवस्था
Income Tax Slab सभी व्यक्तियों तथा हिंदू अविभाजित परिवारो (HUF) के लिए
0.0 रु. से 2.5 लाख रु. शून्य प्रतिशत
2.5 लाख से 3.00 लाख 5 प्रतिशत (Section 87ए के तहत छूट दी जाती है।)
3.00 लाख से 5.00लाख
5.00 से 7.5 लाख रुपय 10 प्रतिशत
7.5 लाख से 10.00 लाख रुपये 15 प्रतिशत
10.00 लाख से 12.50 लाख रुपये 20 प्रतिशत
12.5 लाख से 15.00 लाख रुपये 25 प्रतिशत
15 लाख रुपये से अधिक 30 प्रतिशत

Bonus Points

  • यदि आप Job करते है तो आप हर साल Tax की व्यवस्थाओ को Change कर सकते है। अर्थात आप पुरानी व्यवस्था से नए व्यवस्था में तथा नए से पुरानी व्यवस्था में आसानी से आ सकते है।
  • यह सुविधा सिर्फ नौकरी पेशा लोगो के लिए है, Business वाले ऐसा नही कर सकते है।

ITR File करनें के लिए जरुरी Documents क्या है? आइए जाने

अगर आप ITR File करना चाहते है, तो आपको कुछ Documents की आवश्यकता होती है-

  • Banks या Post Office से Interest Certificate
  • Bank Statement
  • Pan Card
  • Form 16 (नौकरीपेशा व्यक्तियो के लिए)
  • Salary Slip
  • TDS Certificate
  • Form 16A/ 16B/ 16C
  • Form 26As

ITR Form Kaise Download Kare

अगर आप ITR Form को Download करना चाहते है तो आप Income Tax विभाग की Official Website से कर सकते है।

Form Download करनें के लिए निम्न Steps को Follow करें-

  • सबसे पहले Income विभाग की Official Website पर जाएं।
  • आप “Form/ Downloads” के Option पर Click करें।
  • यहां पर आप Drop Down Menu से “Income Tax Returns” के विकल्प पर Click करें।
  • अब यहां पर अपनी Income और असेसमेंट Year के अनुसार Form Download कर सकते है।

Income Tax की Website पर Registration कैसे करें?

चलिए अब हम “ITR kaise File kare? Step by Step jankari” के बारें में जानेंगे।

यदि आप पहली बार ITR File कर रहे है तो आपको आयकर विभाग की अधिकारिक Website पर Registration भी करना होगा।

आयकर विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करनें के लिए निम्न प्रक्रिया को अपनाए-

  • सबसे पहले आप Income Tax Govt की वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाइट के होम पैज में आपको “Register” का विकल्प दिखाई देगा। आप उस पर क्लिक करें।
  • यहां पर आपको कुछ विकल्प दिखाई देगें। यदि आप स्वंय अपनें लिए ITR file करना चाहते है तो “Taxpayer” के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप एक छोटा बॉक्स दिखाई देगा, आपको उसमें अपना पैन कार्ड नंबर दर्ज करके “Validate” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आप पैन नंबर सही होने पर आपको “Success: PAN Validate Successfully” लिखा मिलेगा।
  • अब आगे पूछा जाता है कि क्या आप Individual taxpayer है। ध्यान रखें कि आप Individual taxpayer है, इसलिए “Yes” के ऑप्शन पर क्लिक करें। उसके बाद “Continue” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आगे आपको कुछ बैसिक जानकारी जैसे नाम, जन्मतिथी आदि दर्ज करनी होगी। उसके बाद “Continue” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप अपनी कॉन्टेक्ट जानकारी जैसे मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी तथा घर का पता आदि दर्ज करके “Continue” के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • आपके मोबाइल नंबर तथा ईमेल पर एक ऑटीपी आता है। आपको उसे दर्ज करके “Continue” के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामनें पहले दी गई जानकारी आएगी, आपको अपनी डिटेल्स को पढ़कर वेरीफाई करना है तथा सही होने पर “Confirm” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • किसी प्रकार की गलती होनें पर आप “Edit” ऑप्शन पर क्लिक करके गलती सुधार सकते है।
  • अंतिम स्टेप में आपको अपना पासवर्ड डालना है तथा उसके नीचे के बॉक्स में आपको कोई पर्सनल मैसेज जैसे “I Love Taj Mahal” आदि शब्द लिखना होगा। उसके बाद “Register” पर क्लिक कर दे।
  • अब आपकी स्क्रीन पर “Registered Successfully” लिखा आएगा। जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाता है।

ITR kaise File kare? रिटर्न फाइल कैसे करें Step by Step jankari

वैसे ITR File करनें के कई सारे सारे तरीके है। आप Online तथा Offline दोनो तरीको से Return File कर सकते है।

इसके अलावा कुछ सलाहकारो की Help से भी ITR File करवा सकते है किंतु इसके लिए वे अलग से Charge लेते है।

आप Income Tax की Official Website पर जाकर भी Return File कर सकते है या फिर आप कुछ Private Website भी है। जहां से आप Return File कर सकते है।

लेकिन वे भी इसके लिए Charge लेते है। लेकिन कोशिश करें कि आप Official Website से ही Return File करें।

Bonus Points

  • ITR File करनें के लिए Website पर Registration होना जरुरी है।
  • इसके अलावा ITR File करनें के लिए Pan Card का Aadhar Card से Link होना चाहिए।

यदि आप Online ITR File करना चाहते है, तो आपको निम्न Steps को Follow करना होगा

  • Return File करनें के लिए सबसे पहलें आयकर विभाग की E-Filing Website को Open करें।
  • यदि आप पहली बार Return File कर रहे है तो आपको इसके Portal पर Registration करना होगा।
  • यदि आपनें पहले से Registration कर चुके है तो आपको Log-In करना होगा। Log-in करनें के लिए आपको अपनी User ID तथा Password डालना होगा।
  • Log-in हो जानें के बाद आपको “e-file” के अंतर्गत “File Income Tax Return” का Option मिलेगा, आप उस पर Click करें।
  • आप जिस Assessment Year के लिए ITR File करना चाहते है, उस Year को चुने तथा “Continue” के Option पर Click कर दे।
  • अब आप नीचे दिए गए “Online” Mode के Option को Select करें।
  • आप एक व्यक्ति, हिंदु अविभाजित परिवार या किस अन्य रुप में अपना Income Tax Return File करना चाहते है, उसे चुने। उसके बाद Individual के Option पर Click करें।
  • इसके बाद आप “Filling Type” में जाए तथा वहां पर 139(1)- Original Return के Option को Select करें।
  • अब आप अपनी Category के अनुसार उपयुक्त ITR Form को चुनें, जिसे आप Fill करेंगे। अब यह ITR Form आपके System में Download हो जाता है।
  • अब आप किस कारण से ITR File कर रहे है, उस कारण को Fill करें।
  • इसी प्रकार आगे बढ़ते हुए, अब अपनी Account Related जानकारी Fill करें। यदि आपनें पहलें कभी Bank Account जानकारी Fill की है तो जानकारी को Pre-Validate कर सकते है।
  • अब आपके समानें एक नया Page आएगा, जिसमें आपके द्वारा पहले दी गई जानकारी Fill होती है। आपको उन्हे Check करना है तथा यदि सभी जानकारी सही है तो अपनें Return की Summery को Confirm करके, Validate कर दे।
  • Aadhar के OTP या Electronic Verification Code की Help से Electronic रुप से या फिर E-Filing की Date से 120 दिनो के भीतर ITR V का Sign किया हुआ Printout, CPC बैंगलोर के लिए भेजे तथा अपना Tax Return Verify करें।
  • यदि एक बार आपका Return File हो जाता है तो उसके बाद आपके Registered Email पर ITR V की Receipt Send कर दी जाती है।
  • अब आपको Verification करना होगा। आपके द्वारा Verification हो जानें के बाद विभाग आगे की प्रक्रिया Start करता है। इसकी सूचना आपको आपकी Email ID तथा Mobile Number पर मिल जाती है।

ITR File करनें के बाद Verification करना ना भूलें

इस बात का विशेष ध्यान रखे कि यदि आप Electric Mode से ITR File करते है किंतु वे Digital Signature अर्थात E-Verification नही करते है तो उन्हे ITR Upload करनें के 120 दिनो के अंदर Verify करना होगा।

यदि आप निर्धारित समय से पहले Verification नही करते है तो आपका ITR File अमान्य हो जाएगा।

आप चार तरीको से अपना Verification कर सकते है-

  • Aadhar OTP की Help से
  • Net Banking के जरिए E-Filing Account में Log-In करके Verify करें
  • Electronic Verification Code की Help से
  • ITR V के दोनो तरफ Sign की हुई Copy को बैंगलुरु भेंज कर

अपनी ITR का Status कैसे Check करें?

यदि आपनें अपना ITR File कर लिया है तो अब आप अपनें ITR File का Status Check भी कर सकते है।

अपनें ITR का Status Check करनें के लिए निम्न प्रक्रिया को अपनाएं-

  • इसके लिए सबसे पहलें Income Tax की अधिकारिक Website पर जाएं।
  • Official Website के Home Page में “Service” के अंतर्गत Left ओर “ITR Status” का Option होता है। आप उस पर Click करें।
  • इसके बाद आप एक New Page पर Redirect होते है। जहां पर आपको अपना Pan Card Number, ITR Acknowledgments number तथा Capture Code दर्ज करनें होंगे।
  • सभी जानकारी दर्ज करनें के बाद “Submit” Option पर Click करें।
  • अब आपको आपकी ITR का Status Display दिखाई देगा।
  • अब आपको अपना User Name तथा Password का Use करके ITR E-Filing Portal पर Log in करना होगा।
  • इसके बाद Dashboard में “View Returns/ Forms” के Option पर Click कर दे।
  • अब आप Drop-Down-Menu में जाकर ITR के Option पर Click करें तथा Assessment Year चुनकर “Submit” के Option पर Click करें।
  • अब आपकी Screen पर ITR Status दिखाई देगा।

ITR भरनें के फायदे क्या है?

कुछ समय पहले Income Tax Return File करना थोङा सा मुश्किल होता था लेकिन अब ITR File करना काफी आसान है, चूँकि ITR File Online भी कर सकते है।

अगर आप सही समय पर ITR File करते है तो आपके इसके निम्न फायदे मिलते है।

  • यदि आप कभी भूलवश अधिक Tax चुकाते है, तो आप ITR File करके अधिक पैसे वापस ले सकता है।
  • यदि आप समय पर ITR File करते है, तो आवश्यकता पङनें पर आप आसानी से किसी भी Bank से Loan प्राप्त कर सकते है।
  • यदि आप समय से सभी Tax भरते है, तो आप Tax संबधी जुर्मानों से बच सकते है।

First Time ITR File करनें वालो के लिए Important Tips क्या है? आइए जाने

1. वित्तीय वर्ष

  • जिस वर्ष आमदनी या Income हुई है और जिस साल के लिए व्यक्ति आमदनी पर Government को Tax चुका रहा है, वह वित्तीय वर्ष कहलाता है।
  • यह 1 April से Start होकर 31 March को समाप्त होता है।

2. आंकलन वर्ष

  • वित्तीय वर्ष के बाद आनें वाला वर्ष ही आंकलन वर्ष कहलाता है।
  • यदि फाइनेंशियल ईयर 2019-20 है तो असेसमेंट ईयर 2020-21 होगा।

3. Income Tax Slab Rates

  • नौकरी या कारोबार वाले व्यक्तियो को अपनी Income के अनुसार Tax देना होता है।
  • आय के आधार पर सरकार द्वारा सभी व्यक्तियो से अलग दर से Tax लिया जाता है।
  • Income Tax Slab समय समय पर Change होते रहते है।

4. Form 16

  • इसमें Company या DDO का TAN तथा कर्मचारियो का Pan Number लिखा होता है।
  • इसमें कर्मचारीयो के वेतन तथा कर्मचारी द्वारा Claim किये गये छूट तथा कटौतियो का विवरण होता है।
  • इसके अलावा इसमें कई Important जानकारीयां भी शामिल होती है।

5. Form 16A

  • यह Form नौकरी पेशा लोगो के लिए Important है तथा Form 16 की तरह सभी जानकारी देता है।
  • यह Form वेतन के साथ अन्य आय के TDS के लिए भी लागू होता है।
  • Form 16A Tax Payer को भुगतान करनें वाले व्यक्ति या पार्टी द्वारा किया जाता है।

6. Form 26As

  • यह Form Tax Payers के लिए काफी Important होता है।
  • इसमें Tax Payers द्वारा चुकाए सभी Tax की जानकारी होती है।
  • यह Tax Payer के लिए वार्षिक Tax Statement होता है।
  • इसमें किसी Company या DDO द्वारा Tax Payer के वेतन से काटे गये Tax का विवरण भी होता है।
  • आप इसे Pan Number का Use करके आयकर विभाग की Help से Download कर सकते है।

7. आवश्यक Documents

  • Income Tax Return File करते समय आवश्यक सभी Documents को अपनें पास रखें। इसके लिए आवश्यक सभी Documents के बारें में हम पहले भी बता चुके है।

8. सही प्रकार के ITR Form का Selection करना

  • ITR Form कई प्रकार के होते है।
  • ITR Form अलग अलग Income के आधार पर निर्भर करता है।
  • ITR Form भरनें से पहले आपके ऊपर लागू होने वाले ITR Form के बारें में पता जरुर लगाए।

Zero Income Tax Return क्या होता है? | Tax भरना व ITR File में अंतर क्या है? आइए जाने

वैसे हम “ITR kaise File kare? Step by Step jankari” Article की समाप्ती की ओर है, किंतु मुझे लगता है कि यहां पर आपको Zero ITR के बारें में जान लेना चाहिए।

दरअसल ITR कोई भी File कर सकता है। चाहे उसकी Income ढाई लाख रुपये से कम या अधिक हो। किंतु Tax सिर्फ उन्ही लोगो को चुकाना होता है, जिनकी कीमत 2.5 लाख रुपये से अधिक होती है।

अर्थात ये जरुरी नही है कि आप ITR File कर रहे है तो आपको Tax देना ही होगा। यदि आपकी Income ढाई लाख रुपये से कम है तो आप सिर्फ ITR File कर सकते है।

जिसमें आप सरकार को सिर्फ अपनी Income का ब्यौरा देगें। इसे ही Zero ITR कहते है।


FAQs about ITR File in 2022-23

Q. ITR File कौन-कौन कर सकता है?

उत्तर: वे सभी ITR File कर सकते है, जो सरकार द्वारा प्रदान Tax ब्रैकेट के अदंर आते है।

Q.ITR Form कितनें प्रकार के होते है?

उत्तर: Tax Payer के लिए Seven Type के ITR Form प्रदान किये जाते है। जो निम्न है- ITR-1, ITR-2, ITR-3, ITR-4, ITR-5, ITR-6, ITR-7.

Q.क्या Due Date के बाद भी ITR दाखिल कर सकते है?

उत्तर: हां, Due Date के बाद भी ITR दाखिल की जा सकती है किंतु तय तारीके के बाद ITR दाखिल करनें पर आपको जुर्माना भरना पङता है।

Q. Income Tax Return File करनें के लिए Pan Card जरुरी है?

उत्तर: हालांकि जरुरी तो है, लेकिन यदि आपके पास Pan Card नही है तो आप Aadhar Card की Help से भी आयकर Return दाखिल कर सकते है।

Q. यदि मुझसे ITR File करते समय गलती हो तो मैं अपनी गलती कैसे ठीक कर सकता हूं?

उत्तर: यदि ITR File करनें के दौरान गलती हो जाती है तो आप रिवाइज्ड File करके अपनी गलती सुधार सकते है।

लेकिन इस बात का ध्यान रखे कि असेसमेंट Officer द्वारा असेसमेंट पूरा करनें से पहले या लागू असेसमेंट Year के खत्म होने से पहले अपना रिवाइज्ड Return File कर ले।

 

पोस्ट से संबन्धित सारांश:-

आज के इस Post मे मैंने आपको बताया कि ITR क्या है 2022 me ITR kaise File kare? Income tax return Kaise File Kare All Information हिंदी में जाने।

Return Filing से सम्बंधित अगर आपको कोई भी Problem हो तो आप मुझे Mail कर सकते है।

Read Also Computer General Knowledge

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: